Saturday, 13 June 2015

साले की शादी में साली की चुदाई

हैलो दोस्तो, मेरा नाम परवीन राजपूत है और मैं गाज़ियाबाद से हूँ। मेरी अभी एक साल पहले ही शादी हुई है। मैं काफी समय से अन्तर्वासना पर आप सभी की लिखी हुई कहानियां पढ़ रहा हूँ।
आज मैं भी आपको अपनी एक सच्ची घटना बताने जा रहा हूँ.. जो अभी कुछ समय पहले ही मेरे साथ घटी है।
बात तब की है.. जब मेरे छोटे साले की शादी थी तो मैं और मेरी पत्नी दो दिन पहले ही मेरी सुसराल गाज़ियाबाद पहुँच गए। वहाँ पर सबसे पहले मेरी साली ने हमारा स्वागत किया। फिर मैं अन्दर गया और सबसे मिलने के बाद मुझे एक कमरे में बैठा दिया गया।
तभी एक लड़की मुझे नमस्ते करते हुए मेरे लिए पानी लेकर आई। मैं तो उसे देखता ही रह गया.. वो इतनी मस्त और सुन्दर थी कि मैं तो क्या.. उसे देखकर तो किसी का भी सोया हुआ लंड अपने आप खड़ा हो जाए।
तभी मैंने उससे कहा- सॉरी.. मैंने आपको पहचाना नहीं?
तभी वो बोली- मैं पिंकी.. आपकी दूर की साली हूँ।
मैंने कहा- साली तो कभी भी दूर की नहीं होती है.. वो तो हमेशा दिलों में होती है।
वो हँस कर बोली- अच्छा जी.. साली से अभी तो ठीक से मिले भी नहीं हैं और आपने हमें दिल में भी रख लिया है।
मैंने कहा- इतनी सुंदर साली को तो दिल और दिमाग़ दोनों में रखना ज़रूरी है।
वो बोली- क्या मतलब?
मैंने कहा- मतलब भी समझ जाओगी..
उसके वो बड़ी-बड़ी चूचियाँ.. क्या तनी हुई थीं.. मैं तो बस उन्हें ही देख रहा था।
तभी वो मेरे पास आकर बैठ गई और नशीली आवाज में बोली- जीजा जी.. ऐसे क्या देख रहे हो?
तभी मैंने उसकी चुदास को समझते हुए कहा- कुछ है.. जो बहुत ही अच्छा लगा है.. इसलिए नज़र नहीं हट रही है।
तभी उसने और भी चुदासी होते हुए कहा- अच्छा जी.. मुझे भी तो बताओ कि मुझ में आपको ऐसा क्या पसंद आ गया?
तो मैंने बिंदास होकर कहा- तुम इतनी सुंदर और सेक्सी हो कि तुम्हें देखकर तो किसी का भी मूड खराब हो जाए।
तो उसने कहा- क्या सच में… इतनी सुन्दर हूँ?
तो मैंने धीरे से उसके कंधे पर हाथ रख दिया। जब उसने कुछ नहीं कहा तो मेरी थोड़ी और हिम्मत बढ़ गई और मैंने धीरे-धीरे अपना हाथ उसके मम्मों पर रख दिया और सहलाने लगा। मैं अपने एक हाथ से उसकी जाँघ को मसल रहा था और वो भी गर्म हो रही थी।
उसने भी मुँह से भी.. “ओ.. आह.. उई..” जैसी आवाजें करते हुए मेरे लंड को पैन्ट के ऊपर से ही मसलना शुरू कर दिया।
तभी बाहर से कुछ आवाज़ आई.. और वो एकदम से उठ कर चली गई।
मैं कुछ उदास हो गया..
फिर कुछ समय बाद रात हो चली थी.. तो मैंने खाना खाया और उसके बाद सब अपने-अपने कमरे में सोने चले गए।
ससुराल का घर बड़ा था.. तो सब अलग-अलग कमरों में थे। मुझे तो नींद ही नहीं आ रही थी.. रात के 12 बज चुके थे।
तभी मैंने हिम्मत करके पिंकी का कमरा खोजा और उसके कमरे में चला गया।
वो उधर अकेली लेटी हुई थी और उसने उसने मैक्सी पहनी हुई थी.. तो मैं अन्दर जाकर उसके बिस्तर पर बैठ गया और धीरे-धीरे से उसकी मैक्सी को ऊपर करके उसकी जाँघों को सहलाने लगा।
उसकी गोरी-गोरी जाँघों को देखकर मेरा 6 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लंड तन गया।
मैंने दरवाजे की कुण्डी लगाई और अपना लोवर उतार कर उसके बगल में लेट गया। फिर मैं अपना लंड उसकी जाँघों की दरार में रगड़ने लगा, उसका कोई भी प्रतिकार न होते देख कर मैं अपने हाथों से उसके कठोर चूचों को दबाने लगा।
वो एकदम से कसमसा कर मेरी तरफ घूम कर मेरे होंठों को मुँह में लेकर चूसने लगी। मैं भी उसका साथ देने लगा और एक हाथ से उसकी कोमल नरम चूत को रगड़ने लगा। मैं ऊपर से ही उसकी चूत में ऊँगली करने लगा।
वो बहुत गरम हो चुकी थी और सिसकारियां भरने लगी।
फिर मैंने उसकी मैक्सी और पैन्टी दोनों उतार कर फेंक दीं।
मैं तो बस उसकी चूत को देखता ही रह गया। इतनी चिकनी और गोरी चूत जिस पर एक भी बाल नहीं था।
मैंने उसे सीधा लेटा कर 69 की अवस्था में आ गया, मैं उसकी चूत को और वो साली मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी।
साली मेरे लंड को इतनी मस्ती से चूस रही थी कि मेरे मुँह से भी ‘ओह.. आह..’ की आवाजें निकलने लगीं।
मुझे और भी ज्यादा जोश चढ़ गया.. मैं भी अपनी पूरी जीभ उसकी चूत में डालकर चूसने लगा। मैं कभी-कभी उसके दाने को दाँत से काट भी लेता.. तो वो एकदम से उछल जाती।
वो मेरे लंड को तो इस तरह चूस रही थी कि मेरी तो जान ही निकली जा रही थी। मैंने भी जोर-जोर से उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया।
वो सिसकारियां भरने लगी और उसने अचानक अपने हाथों से पूरा ज़ोर लगा कर मेरे सिर को अपनी चूत में दबाते हुए अपना पानी छोड़ दिया.. मैंने उसका सारा रस पी लिया। फिर चूत को चाट-चाट कर साफ कर दिया।
वो निढाल हो गई.. तभी मैं खड़ा हुआ और उसके बालों को पकड़ कर उसके मुँह को चोदने लगा। दस मिनट चोदने के बाद मैंने अपना सारा वीर्य उसके मुँह में ही छोड़ दिया.. वो उसे जूस की तरह गट-गट करके पी गई और उसने मेरा लवड़ा चाट-चाट कर साफ कर दिया।
अब हम दोनों निढाल हो कर एक-दूसरे से चिपक कर लेट गए और आराम करने लगे। वो मेरे होंठों को चूसने लगी और मैं भी उसके मम्मों को मसलता रहा।
इसके बाद जब हम दोनों फिर से गरम हो गए तो मैंने उसकी टाँगें फैलाईं और अपना सुपारा उसकी चूत के मुँह पर लगा दिया.. उसकी चूत गीली थी और वो भी चुदासी थी.. सो उसने मेरे लौड़े को अपनी चूत में ले लिया।
उसकी एक हल्की सी ‘आह’ निकली और फिर एक-दो धक्कों में ही लवड़ा चूत की गहराइयों में गोता लगाने लगा।
बीस मिनट की धकापेल चुदाई के बाद उसने अपना रज छोड़ दिया और मुझसे लिपट गई उसके माल की गर्मी से मेरा माल भी उसकी चूत में ही टपक गया।
हम दोनों एक-दूसरे को बाँहों में भींचे हुए जीजा-साली की चुदाई की कथा बांच रहे थे।
इसके बाद जब हम दोनों फिर से गरम हो गए तो मैंने उसकी टाँगें फैलाईं और अपना सुपारा उसकी चूत के मुँह पर लगा दिया.. उसकी चूत गीली थी और वो भी चुदासी थी.. सो उसने मेरे लौड़े को अपनी चूत में ले लिया।
उसकी एक हल्की सी ‘आह’ निकली और फिर एक-दो धक्कों में ही लवड़ा चूत की गहराइयों में गोता लगाने लगा।
बीस मिनट की धकापेल चुदाई के बाद उसने अपना रज छोड़ दिया और मुझसे लिपट गई उसके माल की गर्मी से मेरा माल भी उसकी चूत में ही टपक गया।
हम दोनों एक-दूसरे को बाँहों में भींचे हुए जीजा-साली की चुदाई की कथा बांच रहे थे।
ये अभी तक आपने मेरे पिछले भाग में पढ़ा था।
तो मित्रों.. किस तरह मैंने अपनी साली के साथ चुदाई का पहला शॉट मारा.. उसके बाद तो अभी पूरी रात ही बाकी थी।
चुदाई के बाद बात करते-करते उसने मेरे लंड को फिर से सहलाना शुरू कर दिया, फिर मेरे लंड को मुँह में भर कर चूसने लगी। मैंने भी उसको मस्त मम्मों को अपने मुँह में भर कर चूसना शुरू कर दिया।
कुछ देर बाद हम दोनों फिर से गरम होने लगे।
मेरा लंड एकदम लोहे की रॉड जैसा सख़्त हो गया था.. तो मैंने भी उसको पकड़ा ओर जबरदस्त तरीके से उसके मुँह में अपना मोटा ओर लंबा लंड पेलना शुरू कर दिया। वो भी किसी मंजी हुई राण्ड की तरह बड़े मज़े से मेरे लंड को अपने हलक तक लेकर चूस रही थी।
कुछ देर बाद लंड चुसवाने के बाद मैंने उसे सीधा पलंग पर लिटा दिया और उसकी दोनों टांगों को खोल कर.. उसकी चूत पर अपना मुँह रख कर.. उसकी चूत को चूसने ओर चाटने लगा।
मुझे उसकी गुदगुदी चूत चाटने में बड़ा मज़ा आ रहा था। उसकी चूत से निकलता हुआ रस.. जो उसकी चूत से होकर मेरे मुँह में जा रहा था.. जो बहुत ही मजेदार था। कुछ देर चूत चाटने के बाद मैंने उसे ऊपर की ओर उठा कर उसे उल्टा लिटा दिया और उसकी कमर को चूमने लगा।
मैंने उसे चुम्बन करते-करते.. उसकी गाण्ड को अपने दोनों हाथों से उठाकर उसे कुतिया बना दिया।
अब मैं उसकी चूत पर अपने लंड के टोपे को उसकी गाण्ड के छेद पर रगड़ने लगा। मन तो हुआ कि इस बार इसकी गाण्ड मारी जाए.. पर फिर चूत की चुदास ने मेरा मन पलट दिया तो मैंने सोचा अभी तो पूरी रात पड़ी है साली साहिबा की गाण्ड भी बजा ही लूँगा।
वो बहुत ही गर्म हो रही थी.. वो बोलने लगी- साले हरामी जीजा.. अब मत तड़पा.. घुसा दे लौड़ा और फाड़ दे मेरी चिकनी चूत को.. डाल दे भोसड़ी के.. अपना लौड़ा.. ओह्ह..
उसने अपने हाथों में मेरा लंड लेकर ज़बरदस्ती अपने भोसड़े में घुसेड़ना शुरू कर दिया।
मैंने अपने एक हाथ से उसके मम्मे को कसकर पकड़ा और एक जोरदार धक्का मारा.. मेरा लंड उसकी चूत को चीरता हुआ.. उसकी बच्चेदानी में जाकर लगा.. और उसे बहुत ज़ोर से दर्द हुआ।
वो एकदम से कलप गई.. पर उसकी चीख को मैंने अपने हाथों से उसका मुँह बन्द करके रोक लिया।
अब मैं कुछ देर के लिए रुक गया और उसके झूलते मम्मों को दोनों हाथों से पकड़कर धीरे-धीरे सहलाना शुरू किया। कुछ पलों बाद.. जब वो सैट सी हो गई.. तब मैंने फिर से धीरे-धीरे से उसकी चूत में अपना लंड पेलना शुरू किया।
कुछ ही देर बाद उसे भी मज़ा आने लगा और मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी। वो भी अपनी मस्त गाण्ड को खुद ही आगे-पीछे करके मेरे लंड का पूरा मज़ा लेने लगी।
अब मैं भी अपना पूरा ज़ोर लगाकर उसकी चूत को चोद रहा था। कुछ देर की चुदाई के बाद उसने अपना पानी छोड़ दिया.. जिससे मेरा लंड बिल्कुल गीला हो चुका था।
अब लौड़े की ठापों से पूरे कमरे में ‘फ़च.. फ़च..’ की आवाजें गूँज रही थीं।
करीब 20 से 25 मिनट की चुदाई के बाद वो दोबारा अकड़ गई और इस बार उसके झड़ने के साथ ही मैंने भी अपना गरम-गरम पानी उसकी चूत में छोड़ दिया।
झड़ने के बाद मैं वैसे ही उसको उल्टा लिटाकर उसके ऊपर ही लेट गया। फिर हम दोनों सीधे हुए और अगल-बगल में लेट गए।
हम दोनों की साँसें बहुत ही तेज़ी से चल रही थीं और वो मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर उन्हें चूसे जा रही थी।
अब दोनों थक चुके थे.. तो हम दोनों कुछ देर ऐसे ही लेटे रहे और एक-दूसरे के अंगों को छेड़ने लगे।
फिर मैंने उससे पानी लाने के लिए कहा.. तो वो वैसे ही अपनी मैक्सी पहन कर चुपके से बाहर गई और मेरे लिए पानी के साथ-साथ गरम दूध भी लेकर आई।
सबसे पहले मैंने पानी पिया और फिर मैं बाथरूम में जाकर मूत कर आया..
उसने मुझे बड़ा गिलास भर कर दूध दिया। मैंने दूध पीना शुरू किया और उसने फिर से मेरे लण्ड के साथ खेलना शुरू कर दिया।
वो मेरे लंड को मुँह मे लेकर कुतिया की तरह चूसने लगी। मुझे फिर से मज़ा आने लगा और मेरा लंड फिर से चुदाई के लिए तैयार हो गया और मैंने उसको फिर से कुतिया बनाकर उसकी गाण्ड के छेद पर थूक लगाकर अपना लंड उसकी गाण्ड के छेद पर रखकर एक धक्का मारा और मेरा टोपा गाण्ड में अन्दर जाते ही उसकी ज़ोर से चीख निकल गई।
मैंने अपने हाथ से उसके मुँह को बंद कर दिया… वो दर्द के मारे रोने लगी पर मैंने रहम ना खाते हुए एक और जोरदार धक्का मारा.. जिससे मेरा पूरा लंड उसकी गाण्ड में अन्दर तक चला गया।
वो मुझे अलग हटाने की कोशिश करने लगी.. पर मैंने अपना पूरा ज़ोर उसकी शरीर पर डाला हुआ था तो वो हिलने में नाकाम रही।
फिर मैंने धक्के लगाने शुरू किए.. कुछ देर लण्ड जब अन्दर-बाहर होता रहा.. तो लंड ने उसकी गाण्ड में अपनी जगह बना ली और फिर उसे भी मज़ा आने लगा।
अब वो भी मेरा साथ देने लगी। मैं अपने एक हाथ से उसकी चूत में उंगली कर रहा था और धबाधब उसकी गाण्ड को पेल रहा था।
करीब 20 मिनट की चुदाई के बाद अब मैं अपने पूरे जोश में आ चुका था.. तो मैंने रफ़्तार काफ़ी तेज कर दी और वो भी अपनी गाण्ड को हिला हिला कर मुझे चुदवा रही थी.. मगर मैं झड़ने का नाम ही नही ले रहा था।
कुछ देर उसकी चुदाई के बाद मैं पलंग पर सीधा लेट गया और वो मेरे ऊपर आ गई। उसने मेरे लंड को अपने हाथों में लेकर अपनी गाण्ड के छेद पर सैट किया और मेरा लंड एक धक्के में ही सीधा अन्दर चला गया।
वो मेरे खड़े लण्ड पर बैठ कर ज़ोर-ज़ोर से उछल-उछल कर कूदने लगी।
मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था। मैं उसके दोनों चूतड़ों को हाथों में लेकर ज़ोर-ज़ोर से दबा रहा था।
कुछ देर बाद अब मैं अपनी चरम सीमा पर आ चुका था.. तो मैंने उसकी गाण्ड को अपने दोनों हाथों से ऊपर किया ओर ज़ोर से पेलना शुरू कर दिया।
फिर 3-4 धक्के के बाद मैंने अपना सारा माल उसकी गाण्ड में छोड़ दिया।
कुछ देर वो मेरे लंड पर ऐसे ही बैठी रही और फिर मेरा लंड अपने आप सिकुड़ कर बाहर आ गया।
अब हम दोनों कुछ देर ऐसे ही लेट गए और एक-दूसरे को चूमते और चाटते रहे।
फिर मैंने अपने आप को साफ़ किया और उसे एक लंबा चुम्बन करके अपने कमरे में चला गया।
उस रात मैंने उसको 3 से 4 बार पेला था। वो भी पूरी चुदक्कड़ थी उसने भी मुझे खूब चूस लिया था।

5 comments:

  1. मुझे बकवास आह आह , मैं बड़ा डिक की जरूरत है , कौन बड़ा लंड है जल्दी आना मेरी बिल्ली में अपने 12 इंच का लंड दर्ज .मेरे साथ असली सेक्स के लिए ,अपने सेक्स लड़की के रूप में विज्ञापन मुझे >>> सीमा शर्मा

    मुझे और अधिक मनोरंजन के साथ वास्तविक सेक्स में >>> सीमा शर्मा

    For more entertainment >> असंतुष्ट गृहिणी के साथ सेक्स

    भारतीय सेक्सी भाभी के साथ सेक्स

    भाई बहन की सेक्स कहानियां

    माँ और बेटे की सेक्स कहानियां

    पिता और बेटी की सेक्स कहानियां

    भारतीय गर्म सेक्स वीडियो

    तमिल और तेलुगू गर्म सेक्स वीडियो

    भारतीय पशु सेक्स कहानियां और वीडियो

    बहन की चुदाई और गर्म सेक्स वीडियो

    माँ की चुदाई और गर्म सेक्स वीडियो

    पिता और बेटी की चुदाई और गर्म सेक्स वीडियो

    वास्तविक बहन भाई सेक्स वीडियो

    रियल भारतीय बलात्कार सेक्स वीडियो और कहानियों

    भारतीय कॉल लड़कियों के फोन नंबर और गर्म सेक्सी छवि

    पाकिस्तानी लड़कियों को सेक्स वीडियो और उर्दू सेक्स कहानी

    शिक्षक और छात्र सेक्स टेप गर्म सेक्स वीडियो

    भारतीय समूह सेक्स वीडियो और गर्म तस्वीर






















































































































































































































































    ReplyDelete
  2. मुझे बकवास आह आह , मैं बड़ा डिक की जरूरत है , कौन बड़ा लंड है जल्दी आना मेरी बिल्ली में अपने 12 इंच का लंड दर्ज .मेरे साथ असली सेक्स के लिए ,अपने सेक्स लड़की के रूप में विज्ञापन मुझे >>> सीमा शर्मा

    मुझे और अधिक मनोरंजन के साथ वास्तविक सेक्स में >>> सीमा शर्मा

    For more entertainment >> असंतुष्ट गृहिणी के साथ सेक्स

    भारतीय सेक्सी भाभी के साथ सेक्स

    भाई बहन की सेक्स कहानियां

    माँ और बेटे की सेक्स कहानियां

    पिता और बेटी की सेक्स कहानियां

    भारतीय गर्म सेक्स वीडियो

    तमिल और तेलुगू गर्म सेक्स वीडियो

    भारतीय पशु सेक्स कहानियां और वीडियो

    बहन की चुदाई और गर्म सेक्स वीडियो

    माँ की चुदाई और गर्म सेक्स वीडियो

    पिता और बेटी की चुदाई और गर्म सेक्स वीडियो

    वास्तविक बहन भाई सेक्स वीडियो

    रियल भारतीय बलात्कार सेक्स वीडियो और कहानियों

    भारतीय कॉल लड़कियों के फोन नंबर और गर्म सेक्सी छवि

    पाकिस्तानी लड़कियों को सेक्स वीडियो और उर्दू सेक्स कहानी

    शिक्षक और छात्र सेक्स टेप गर्म सेक्स वीडियो

    भारतीय समूह सेक्स वीडियो और गर्म तस्वीर






















































































































































































































































    ReplyDelete